Intezaar Shayari- इंतेजार शायरी

Intezaar Shayari- इंतेजार शायरी गुस्सा होकर जाने वाले लोग तो वापस भी आ जाते है,लेकिन मुस्कुरा के छोड़ कर जाने वाले कभी वापस नही आते..!! कभी लिखूँगा तुम्हें अपने लफ़्ज़ों की ज़ुबानी,वो सारी तुम्हारी बातें मैंने धड़कनों में संभाल रखी है.. तरस गये है तेरे मुंह से कुछ सुनने को हम,प्यार की बात न सही … Read more